अश्वगंधा के फायदे | Ashwagandha Benefits & Uses

Ashwagandha

What Is Ashwagandha

Ashwagandha को आयुर्वेद का एक बहुत बड़ा खोज माना जाता है. इसके बहुत सारे औषधीय गुण है, जो आपके शरीर में अनेको लाभ  पहुंचाते है. इसीलिए इसे अतुलनीय  स्वास्थ्यवर्धक जड़ी बूटी कहा जाता है. अश्वगंधा का पौधा ज्यादातर भारत और नार्थ अफ्रीका में पाया जाता है. इसकी इस्तेमाल सैकड़ो वर्षों से चला आ रहा है .

ये आपको तनाव से मुक्त करता है, आपके  रक्त के शुगर  लेबल को कम करता है, आपके दिमाग का विकाश करता है, आपके वीर्य की ताक़त को बढ़ाता है. ऐसे बहुत सारे गुण इस जड़ीबूटी में पाए गए है. विज्ञानं ने भी अश्वगंधा के इन गुणों को माना है.

निचे अश्वगंधा के सेवन  से आपको  क्या क्या फायदा हो सकता है संक्षिप्त में बताया गया है.

Ashwagandha Benefits

रक्त में शुगर की मात्रा को कम करता है

 Ashwagandha

बहुत से शोध में ये देखा गया है की, अश्वगंधा आपके शरीर में रक्त में शुगर की मात्रा को कम करता है. चाहे आप डायबेटिक्स के मरीज हो  या नहीं ये सबके के लिए असरदार है. जो अश्वगंधा का सेवन करते है, उनके रक्त में शुगर की मात्रा काम जरूर होती है.

अश्वगंधा  इन्सुलिन के स्राव को बढ़ाकर आपके मांशपेशियों की कोशिकाओं को इन्सुलिन के लिए संवेदनशील बनाता है.

कोर्टिसोल के स्तर को कम करें

ashwagandha

कोर्टिसोल जिसे  तनाव हॉर्मोन भी कहा जाता है, इसके स्तर को कम करने में अश्वगंधा बहुत सहायक है. जब आप तनाव में होते है तो आपके एड्रेनल ग्लांड्स इस हॉर्मोन को रिलीज़ करते है. अगर आपका शुगर लेबल बहुत ज्यादा कम हो जाता है, तब भी कोर्टिसोल हॉर्मोन के बढ़ने की सम्भवना हो जाती है.

एक स्टडी में ये देखा गया की, जो लोग तनाव में है , अश्वगंधा के सेवन से उनके शरीर के कोर्टिसोल लेवल काफी हद तक कम हो गयी. इससे ये पता चलता है, की इसके सेवन से तनाव भी कम किया जा सकता है. न सिर्फ तनाव, बल्कि ये चिंता और डिप्रेशन लेबल को भी कम करता है.

कैंसर को बढ़ने से रोके

 Ashwagandha

अश्वगंधा एपोप्टोसिस को प्रेरित करता है, जो कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देते. ये बहुत से अलग लाग तरीके से कैंसर कोशिकाओं को पनपने नहीं देता. ऐसा देखा गया है की , अश्वगंधा रिएक्टिव ऑक्सीजन उत्पन्न करता है जो नार्मल कोशिकाओं को बिना क्षति पहुचाये कैंसर की कोशिकाओं को रोकते है.

जानवरों पे अध्ययन करके पाया गया है, की ये बहुत सारे कैंसर के लिए लाभदायक है. जैसे स्तन, फेफड़े, मस्तिष्क और डिम्बग्रंथि के कैंसर।

ये बात बताना जरुरी है की, अब तक ये स्टडी मनुष्य पर पूरी तरह से हुआ नहीं है. इसके ज्यादातर  टेस्ट जानवरो पर किये गए है , और परिणाम ज्यादातर अच्छा ही निकला है.

पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन और प्रजनन क्षमता को बढाए

 Ashwagandha

अश्वगंधा के सेवन से पुरुषों को भी काफी लाभ मिलता है. अगर कोई पुरुष में टेस्टोस्टेरोन की कमी है, तो उसे अपनी इस कमी को दूर करने के लिए अश्वगंधा काफी हद तक सक्षम है. अगर टेस्टोस्टेरोन लेबल सही होगा तो सेक्स लाइफ भी आपकी अच्छी रहेगी. अश्वगंधा आपके शरीर के प्रजनन शक्ति को भी बढ़ावा देता है.

एक रिसर्च में बहुत सारे पुरुषों को अश्वगंधा का सेवन कराया गया. जब कुछ दिनों बाद उसका परिणाम आया तो देखा गया की उन लोगों की स्पर्म काउंट में अच्छा इजाफा हुआ है.

आपके मांशपेशियों एवं ताक़त को बढ़ाता है

 Ashwagandha

अश्वगंधा आपके शरीर की क्षमता को बढ़ाता है. ये आपकी ताक़त को बढ़ाता है और साथ में शरीर की रचना को भी बेहतर बनाता है.

इसके लिए काफी अनुशंधान भी हुए है. इसमें ये पाया गया है, की एक स्वस्थ मनुष्य  जो हर दिन 750mg-1250 mg अश्वगंधा चूर्ण का सेवन रोज करता है, ३० दिन में उसके मांशपेशियों की ताक़त में काफी इजाफा हुआ है.

अश्वगंधा न सिर्फ मांशपेशियों के लिए फायदेमंद है, बल्कि आपके शरीर के वसा को कम करने में भी काफी मदद करता है.

इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाता है

 Ashwagandha

अश्वगंधा के सेवन से आपके इम्यून सिस्टम पर भी असर पड़ेगा. ये आपके इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने की ताक़त रखता है, जिससे  आपके शरीर को अनेको रोगों से लड़ने की क्षमता मिलती है. इसका मतलब ये आपके शरीर के इम्यून कोशिकाओं को बढ़ावा देता है. ये सूजन के मार्करों को भी कम कर सकता है.

अश्वगंधा की कितनी मात्रा लेनी चाहिए? ( Ashwagandha Uses )

वैसे तो ये एक हर्बल मेडिसिन है , जिसके साइड इफ़ेक्ट कम होते है अगर छोटी मात्रा में ली जाए. लेकिन अगर ज्यादा मात्रा में ले तो कुछ साइड इफ़ेक्ट हो सकते है, लेकिन कम से कम एक महीने के लिए प्रति दिन 250-500 मिलीग्राम प्रभावी लगते हैं।

NOTE:

जब आप कोई भी मात्रा में अश्वगंधा ले तो एक बार अपने नजदीकी आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह कर ले. इसकी खास वजह ये है की , अलग अलग स्वस्थ्य परिस्थियों के लिए अलग अलग मात्रा दी जाती है.

गर्भवती महिला तो बिलकुल ना ले.

बाजार में अश्वगंधा अलग अलग तरह से मिलते है. जैसे अश्गंधा चूर्ण, अश्वगंधा टेबलेट. अलग अलग ब्रांड्स की अलग अलग मात्रा में होती है.

About

No Comments

Leave a Comment